LatestNews

बनारस की बेटी बनी पहली महि‍ला राफेल फाइटर,खुशी से फूला नहीं समा रहा परि‍वार।

ब्यूरो रिपोर्ट वाराणसी

वाराणसी : भारतीय वायु सेना का सबसे खास और ताकतवर फाइटर जेट माना जाने वाले राफेल को अब काशी की बेटी उड़ाएगी और दुश्मन के दांत खट्टे करेगी ।

दरअसल वाराणसी की शिवांगी सिंह जो अब तक मिग 21 उड़ा चुकी हैं, अब वो राफेल के 17 गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन टीम में शामिल हो गयी हैं। शि‍वांगी राफेल उड़ाने वाली पहली महि‍ला फाइटर पायलट के तौर पर चुनी गयी हैं। 

अंबाला एयरफोर्स स्टेशन में संबंधित महिला पायलट को इसकी ट्रेनिंग भी दी जा रही है। इस खबर के बाद वाराणसी में शिवांगी के घर मे खुशियों की बहार आ गयी है। सभी कहते है शिवांगी ने जो ठाना वो कर के दिखा दि‍या है। शिवांगी के घर पर बधाई देने वालों का तांता लगा हुआ है। पिता की खुशियों का ठिकाना नहीं है। पिता सुशिल सिंह ने बताया कि शिवांगी फिलहाल अभी मिग-21 लड़ाकू विमान को उड़ा रही हैं और इसी अनुभव के बाद अब राफेल की कमान देने की तैयारी की जा रही है।

 राफेल विमान उड़ाने के प्रशिक्षण के बाद ये महिला पायलट भी राफेल की 17 गोल्डन एरो स्क्वॉड्रन का हिस्सा बन रही है। यही स्क्वॉड्रन अंबाला एयरफोर्स स्टेशन में राफेल विमानों को संभाल रही है।शिवांगी की मां सीमा सिंह ने बताया कि संघर्ष किसी के जीवन का कभी कम नहीं होता। मेरी बेटी देश को बचाने के लिए सीमा पर तैनात रहेगी। बचपन से ही उसे किसी चीज़ की कमी नहीं रही है। उसकी किसी भी चीज़ को रोका नहीं गया और हर क्षेत्र में जिसमें उसका इंट्रेस्ट था वो उसे करने दिया गया। बास्केटबाल और ज्वेलिन थ्रो में वो नेशनल स्तर की खिलाड़ी रही है। 

सीमा सिंह ने बेटी शि‍वांगी के राफेल को संभालने वाले स्क्वार्डन का हिस्सा बनने पर कहा कि उसने अपने लक्ष्य को पा लिया है बस अब हम सबको इंतज़ार उस दिन का है जब वह राफेल को परवाज़ देगी। राफेल स्क्वाड्रन की पहली महिला फाइटर पायलट फ्लाइट लेफ्टिनेंट शिवांगी सिंह वाराणसी में स्कूलिंग के बाद उच्‍च शिक्षा के लिए बनारस हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) पढ़ने गई थीं। बीएचयू में ही वह नेशनल कैडेट कोर में 7 यूपी एयर स्क्वाड्रन का हिस्सा थीं। इसके बाद वर्ष 2016 में प्रशिक्षण के लिए वायु सेना अकादमी उन्‍होंने ज्‍वाइन की थी।

फ्लाइट लेफ्टिनेंट शिवांगी भारतीय वायुसेना के सबसे पुराने जेट विमान मिग -21 बाइसन और सुखोई एमकेआई से लेकर आधुनिकतम राफेल विमान को उड़ाने वाली पहली भारतीय महिला भी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button