कोरोना महामारी में मरीजो के साथ हुई लापरवाही दुखद: – जाहिद बेग

प्रदेश में सपा की सरकार होती तो भदोही में ऑक्सीजन प्लांट के लिए लोंगों से सहयोग राशि नहीं लेनी पड़ती।

भदोही : पूर्व विधायक जाहिद बेग ने मंगलवार प्रेस वार्ता कर कोरोना महामारी में मरीजो के साथ हुई भारी असुविधा पर दुख प्रकट करते इसे भाजपा सरकार की नाकामी करार दिया।कहां प्रदेश में सपा की सरकार होतो तो ऐसी दुखद दिन नही देखने पड़ते।पूर्व विधायक ने कहां की भाजपा के लोग धर्म की राजनीती करते है।जो साबित हो गया की सिर्फ वोट के लिए है।आज कोरोना महामारी में मरने वालो का मज़बूरी में अंतिम संस्कार धर्म के विपरीत करना पड़ा।इससे अधिक सरकार की नाकामी का कोई और उदाहरण नही हो सकता।

भाजपा सरकार को स्वयं इस्तीफा दे देना चाहिए।पूर्व विधायक ने भदोही में डीएम के पहल पर ऑक्सीजन प्लांट स्थापना का स्वागत किया साथ ही सांसद विधायक पर तीखे प्रहार किया।कहा ऑक्सीजन प्लांट के लिए डीएम को निर्यातकों से सहयोग राशि लेनी पड़ी।जबकि जिले के सांसद व विधायकों के निधि से ही प्लांट आसानी से बन जाता लेकिन विधायक को पंचायत चुनाव में जीते सदस्यों की जीत पर मिठाई के अंदर मिठाई बांटने से फुरसत ही नही है।और जनता संकटों से जूझ रही है।

प्रदेश सरकार में बदले की भावना से काम हो रहा है।जेल के अंदर व बाहर भी मुख्य मंत्री के विरोधियों को मौत के घाट उतारा जा रहा है।जबकि सजा देने का काम कोर्ट का होता है। केंद्र में बैठी भाजपा सरकार भी बदले की भावना व तानाशाही का रुख अख्तियार किये हुए है।अभी ताजा उदाहरण टीएमसी के विधायकों पर मुकदमा व भाजपा विधायकों को क्लीन चिट दिया जा रहा है।

पूर्व विधायक ने कहां कि पूर्व सपा सरकार में एमबीएस में सौ बेड का हॉस्पिटल बना था।आज सपा की सरकार होती तो किसी से सहयोग राशि लेने की जरुरत न पड़ती और ना ही मरीजों के साथ लापरवाही होती।आज अंतिम संस्कार के लिए लकड़ियों की कीमत 6 गुना बढ़ गयी हैं।मजबूरी में दाह संस्कार के जगह दफनाना पड़ रहा है।उन परिवार पर क्या गुजरती होगी।यह तो वही जानते होगें।पूर्व विधायक ने कहां कि बुधवार को मै भी डीएम से भेट कर ऑक्सीजन प्लांट के लिए 25 हजार रु.दूंगा।

Related posts

Leave a Comment