बदल रहा मौसम का मिजाज,रहे सावधान, करें ये काम.

Varanasi : मौसम का मिजाज इन दिनों तेजी से बदल रहा है। पहाड़ी क्षेत्रों में हुई बर्फबारी से ठंड बढ़ गई है। तापमान में भी उतार-चढ़ाव जारी है, ऐसे समय में मौसमी बीमारियों के होने का भी खतरा अधिक है। डॉक्टरों के मुताबिक, पहले से ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है।

पिछले दिनों बारिश और फिर बर्फीली हवाओं के चलने से मौसम में जिस तरह का बदलाव देखने को मिल रहा है, ऐसे समय में सेहत के प्रति जरा सी लापरवाही घातक सिद्ध हो सकती है। गले में खराश, जुकाम, सर्दी खांसी के साथ ही बच्चों में निमोनिया और डायरिया की संभावना अधिक रहती है। ऐसे में संतुलित खानपान के साथ ही बीमारियों से बचाव के प्रति भी जागरूक रहने की जरूरत है। महिलाओं, बच्चों, विशेषकर 60 साल से अधिक उम्र के लोगों की सेहत की मॉनिटरिंग भी जरूरी है।

कोरोना का संक्रमण भी एक बार फिर से बढ़ने लगा है। ऐसे समय में लोगों को पहले की अपेक्षा ज्यादा सतर्कता बरतने की जरूरत है। सर्दी, खांसी, जुकाम कोरोना के संभावित लक्षण हैं। इससे बचने के साथ ही कोविड प्रोटोकॉल का भी पालन बहुत जरूरी है।

ठंड के मौसम में खानपान का विशेष ध्यान देना चाहिए। इस मौसम में पेट संबंधी बीमारियों के साथ ही हड्डियों और जोड़ों में दर्द की भी शिकायत आती है। परेशानी पर बिना डॉक्टर की सलाह के कोई दवा नहीं लेनी चाहिए। महिलाओं, बच्चों, पहले से बीमार लोगों को ज्यादा सतर्कता बरतनी होगी।

Related posts

Leave a Comment