102 एवं 108 एंबुलेंस संचालक मरीजों के पास समय से नही पहुंचे है तो होगी सख्त कार्यवाही

जिला स्वास्थ समिति की बैठक कर दिए आवश्यक दिशा निर्देश – जिलाधिकारी

102 एवं 108 एंबुलेंस संचालक मरीजों के पास समय से नही पहुंचे है तो होगी सख्त कार्यवाई – डीएम

भदोही जिलाधिकारी आर्यका अखौरी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ समिति की बैठक संपन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने जननी सुरक्षा योजना, संस्थागत प्रसव, टीकाकरण एवं गर्भवती महिलाओं का स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने की समीक्षा की।


बैठक के शुरू में सीएमओ डॉ. संतोष कुमार चक ने बैठक के एजेंडा बिंदु सहित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की अद्यतन स्थिति बताई। बैठक में जिला स्तर पर विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों, स्वास्थ्य संकेतको की अद्यतन स्थिति, प्रगति पर बिंदुवार समीक्षा हुई। बैठक में उन्होंने गर्भवती महिलाओं की समय से समस्त जांच कराकर उनका संस्थागत एवं सरकारी अस्पतालों में प्रसव कराए जाने हेतु आशा एवं एएनएम को कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने आयुष्मान गोल्डन कार्ड योजना के अंतर्गत श्रमिक कार्ड धारकों के अंतर्गत पंजीकृत श्रमिकों एवं अंत्योदय कार्ड धारकों के गरीब लाभार्थियों को इसका लाभ दिलाए जाने के निर्देश दिए, जिससे कि वह अपनी गंभीर बीमारियों के इलाज हेतु ₹500000 तक का इलाज सरकारी एवं सम्बद्ध किये गए प्राइवेट अस्पताल में सुविधा प्राप्त कर सकें। उन्होंने बैठक में मात्र व शिशु मृत्यु दर में कमी लाए जाने तथा टीकाकरण को पूर्ण कराए जाने के निर्देश दिए । उन्होंने प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश दिए कि संबंधित आशाओं एवं एएनएम की बैठकों को नियमित रूप से कर बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं एवं उनके कार्यों की समीक्षा करें। उन्होंने संस्थागत प्रसव के कार्य में माह अगस्त तक कराये गए प्रसव में नाराजगी व्यक्त करते हुए संस्थागत प्रसव और बढ़ाये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने जीएसएसके योजना के अंतर्गत शत-प्रतिशत महिलाओं को संस्थागत प्रसव के उपरांत निशुल्क एम्बुलेंस से घर तक पहुँचाने की व्यवस्था कराये जाने के निर्देश दिए। बैठक में उन्होंने बाल स्वास्थ्य परीक्षण कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कराए जाने के भी निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। जिलाधिकारी ने समस्त अधीक्षकों को निर्देश दिया की प्रसव के बाद तुरंत डिस्चार्ज न करें, 24 घंटे बाद ही डिस्चार्ज की जाए।
बैठक में उन्होंने परिवार कल्याण कार्यक्रम, प्रधानमंत्री मात्र वंदना योजना का प्रचार-प्रसार कर लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने एंबुलेंस मैनेजर/संचालको को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि मरीजों के पास समय से पहुंचाए एबुलेंस नही तो करवाई की जायेगी। उन्होंने 102 एवं 108 एम्बुलेंस सेवा की समय पर उपलब्धता एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत कार्यों की समीक्षा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश दिए।उन्होंने बताया की दिनांक 25 अगस्त से 30 अगस्त तक अंत्योदय आयुष्मान पखवाड़ा चलाया जा रहा हैं जिसमें जनसेवा केंद्रों एवं आरोग्य मित्रों के माध्यम से ग्रामों में निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाये जा रहे हैं।
डीएम ने चिकित्सालयो में ओपीडी प्रगति,आयुष्मान भारत-पीएम जन आरोग्य योजना के तहत आयुष्मान कार्ड वितरण, उसके सापेक्ष उपचारित लाभार्थियों की अद्यतन स्थिति, जन्म पंजीकरण, स्टिलबर्थ रेश्यो, जननी सुरक्षा योजना, पीएम मातृत्व वंदना योजना, संस्थागत प्रसव, राष्ट्रीय दृष्टिहीनता निवारण कार्यक्रम, राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम, वेक्टर जनित रोग, न्यूबॉर्न स्टेबलाइजेशन यूनिट सहित विभिन्न स्वास्थ्य कार्यक्रमों की बिंदुवार समीक्षा की, जरूरी दिशा निर्देश दिए।
बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. संतोष कुमार चक, सहित चिकित्साधिकारीगण एवं अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *