सभी राजपत्रित अधिकारी, थाना प्रभारी और चौकी प्रभारी ध्यान दें; और एकाग्र हो कर काम करते हुए परिणाम दें

अनन्तपुरी प्रयागराज की रिपोर्ट

प्रयागराज के कप्तान का फरमान

सभी राजपत्रित अधिकारी, थाना प्रभारी और चौकी प्रभारी ध्यान दें; और एकाग्र हो कर काम करते हुए परिणाम दें

कुख्यात (HS) अपराधी दो प्रकार के हैं-सक्रिय (ACTIVE) और सुषुप्त (DORMANT). यह दोनों प्रकार के अपराधी समाज के लिए बहुत ख़तरनाक हैं। इन को चुन चुन कर, इनकी निगरानी करते हुए इन पर नियमानुसार यथोचित कठोरतम (दण्डात्मक / निरोधात्मक) कार्यवाही की जानी है ताकि आम आदमी को और भी अधिक सुकून मिल सके

इसके अलावा प्रयागराज और आसपास के जनपदों के तमाम ऐसे अपराधी हैं जो अपराध कर चुके हैं परन्तु ना तो गिरफ़्तार हुए हैं और ना ही कभी लाइट में आए हैं। अतः लगातार अपराध करते जा रहे हैं। ऐसे अपराधी ज़्यादा ख़तरनाक हैं, क्योंकि ये अकस्मात् घटना कर के फ़रार हो जाते हैं। इनकी रोकथाम के लिए मुखबिर तंत्र को और भी अधिक सक्रिय करते हुए रैंडम चेकिंग और फ़ुट पैट्रोलिंग (पैदल गस्त) को और भी अधिक प्रभावी बनाना है, और संवेदनशील तिराहों, चौराहों और सर्राफ़ा मार्केट में पिकेट ड्यूटी को और भी मज़बूत करना है।

कुख्यात अपराधी, माफ़िया, साज़िश कर्ता और समाज के दुश्मनों को चैन से नहीं बैठने देना है। यह मन्त्र याद रखना हमेशा…

Leave a Reply

Your email address will not be published.