वाराणसी में लक्सा थाने में तैनात उपनिरीक्षक को बदमाशों ने गोली मारकर सरकारी पिस्टल लूटी

वाराणसी कमिश्‍नरेट के लक्सा थाने में तैनात उपनिरीक्षक अजय यादव को बाइक सवार तीन बदमाशों ने गोली मारकर सरकारी पिस्टल लूटी। रोहनिया थाना क्षेत्र के जगतपुर का मामला। घटना मंगलवार की शाम को हुई है। इस मामले में बदमाशों की तलाश पुलिस ने शुरू कर दी है।

वाराणसी,। जगतपुर स्थित अपने निर्माणाधीन मकान पर पहुंचे दारोगा को पीछे से आए बाइक सवार तीन दुस्साहसी बदमाशों ने गोली मार कर उनकी सरकारी पिस्टल, पर्स और मोबाइल लूट ली । दारोगा को गोली मारकर लूट की घटना से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया है। घायल दारोगा को अनंत अस्पताल रोहनिया में भर्ती कराया गया है। उच्चाधिकारियों ने घटनास्थल और अस्पताल पहुंचकर घटना की जानकारी और जांच की है। घटना की वजह फिलहाल स्पष्ट नहीं हो सकी है। बदमाशों ने गोली मारने के बाद कहा की बहुत गुंडा बनते हो ।

दो बदमाशों से भिड़े दारोगा तो तीसरे ने मारी सिने में गोलीपुलिस कमिश्नरेट के लक्सा थाने में तैनात दारोगा अजय यादव 2015 बैच के मूलरूप से प्रतापगढ़ जिले के भीखमपुर गांव के रहने वाले हैं। अजय यादव ने बताया कि जैसे ही अपने मकान के पास पहुंचकर बाइक खड़ा कर रहा था अचानक दो बदमाश गर्दन पकड़ लिए। हेलमेट लगा होने के कारण समझ नहीं पाया। लेकिन दोनों बदमाशों को लेकर नहर में कूद गया। इसी दौरान तीसरे बदमाश ने गोली मार दिया जिसके बाद मैं गिर गया। इसके बाद सभी मेरी पिस्टल, पर्स और मोबाइल लूट ले गए। घटना के बाद बाइक पर सवार होकर बदमाश असलहा लहराते हुए भाग निकले। अस्पताल के डॉक्टर आलोक शर्मा ने बताया गोली सीने से पीठ की तरफ पार हो गई है। हालत खतरे से बाहर है।

लंका थाने में तैनाती के दौरान भूमाफियाओं को भेजा था जेलअजय यादव ने अधिकारियों के सामने बताया कि वर्ष 2019 में लंका थाने में तैनाती के दौरान चितईपुर क्षेत्र 419 , 420, 467, 468, 471 के जमीन संबंधी मुकदमे में तीन के खिलाफ भूमाफिया का विवेचक रहा जिसमें रमाकांत सिंह को जेल भेजा था बाकी दो फरार थे। इसके अलावा किसी के कोई रंजिश नहीं है। अजय यादव के मुताबिक तीनों बदमाश 18 से 20 वर्ष के रहे। सभी ने मास्क लगा रखा था ।15 नवंबर तक दाखिला पूर्ण होने की संभावना काफी कम है।महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ और संपूर्णानंद संस्कृत विश्वविद्यालय में अब तक दाखिला पूरा नहींयह भी पढ़ेंपुलिस की 5 टीमें लगाई गई घटना की सूचना के बाद मौके पर पुलिस कमिश्नर ए सतीश गणेश, संतोष कुमार सिंह, सूर्यकांत त्रिपाठी, नीरज पांडेय सहित पुलिस अधिकारी मौके और अस्पताल पर पहुंचकर घटना की जानकारी ली। पुलिस कमिश्नर ए. सतीश गणेश ने बताया कि वारदात को अंजाम देने वाले बदमाशों की तलाश में क्राइम ब्रांच सहित पुलिस की 5 टीमें लगाई गई हैं। बदमाश जल्द ही पुलिस की गिरफ्त में होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *