मध्य रात्रि में वाराणसी में भर्ती मरीजों का हाल जानने, निकले जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक

ब्यूरो भदोही

देर रात्रि डीएम एसपी वाराणसी के ट्रामा सेन्टर, सर सुन्दरलाल, दीन दयाल उपाध्याय अस्पतालों में भर्ती मरीजों के प्रगति की ली जानकारी

बेहतर इलाज किए जाने को लेकर मेडिकल टीम को दिए आवश्यक दिशा निर्देश

तीमारद्वारों को हर सम्भव बेहतर समुचित उपचार किए जाने का दिलाया भरोसा

अपनो का दुख-दर्द बाटने मध्य रात्रि में वाराणसी के अस्पतालों में पहुॅचे डीएम व एसपी

भदोही 10 अक्टूबर 2022ः- मध्य रात्रि में जिलाधिकारी श्री गौरांग राठी व पुलिस अधीक्षक डॉ0 अनिल कुमार ने वाराणसी जाकर ट्रामा सेन्टर, सर सुन्दरलाल, दीन दयाल उपाध्याय अस्पतालों में भर्ती मरीजों के सुधार की प्रगति का जाना हाल। द्वय अधिकारीगण द्वारा अस्पतालों में भर्ती मरीजों व तीमारद्वारो से उनके चिकित्सीय उपचार की अद्यतन रिपोर्ट व प्राप्त होने वाली सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। उन्होंने मरीजों व तीमारद्वारों को हौसला दिया कि बेहतर से बेहतर इलाज कराने के लिए हम सभी प्रतिबद्ध है। स्वास्थ्य सुविधाओं को मुहैया कराने में कोई कसर नही छोड़ा जा रहा है। हर सम्भव प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने तीमारद्वारों से उनके खान-पान, दवा इत्यादि अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी ली। जिलाधिकारी ने तीमारद्वारों को जागरूक करते हुए कहा कि मरीज कक्ष में एक ही अटेडेन्ट/ आदमी आवश्यकता पड़ने पर ही जाये। मरीज को इन्फेक्शन फैलने की सम्भावना के दृष्टिगत किसी को भी अन्दर जाने से मना करने का जिलाधिकारी ने निवेदन किया। उन्होंने तीमारद्वारों को भरोसा दिलाया कि शासन प्रशासन द्वारा हर सम्भव राहत बचाव कार्य व सहायता किया जा रहा है।
बेहतर इलाज किये जाने को लेकर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक द्वारा मेडिकल टीम को आवश्यक दिशा निर्देश दिया गया। उन्होंने अस्पतालों के अधीक्षकों से बात करते हुए कहा कि किसी भी अभाव या समुचित व्यवस्था न होने की स्थिति में उन्हें तत्काल सुचित किया जाय ताकि वे शासन स्तर से सुविधाओं को मुहैया करा सकें। मरीजों व तीमारद्वारों को बेहतर व समुचित चिकित्सकीय उपचार व सुविधाओं के सुचारू पूर्ति हेतु जिलाधिकारी द्वारा चारों जनपदों-वाराणसी, प्रयागराज, मीरजापुर, भदोही के भर्ती अस्पतालों में प्रशासन-पुलिस-मेडिकल की संयुक्त टीम 8-8 घण्टे की तीन शिफ्ट में अधिकारियों की ड्यूटी लगायी गयी है। जो भर्ती मरीजों व तीमारद्वारों पर मॉनीटरिंग करते हुए उनको बेहतर सुविधा दिलाये जाने के लिए प्रतिबद्ध है।
जिलाधिकारी ने बताया कि वाराणसी के अस्पतालों में भर्ती मरीज जैसे ही सुरक्षित जोन में आयेंगे और मेडिकल टीम द्वारा डिस्चार्ज कर दिया जायेगा तो उन्हे भदोही में पॉच अस्पतालों में अग्रिम केयर के लिए तैयारी कर ली गयी है। जिससे फालोअप उनका बेहतर मेडिकल कन्डिसन में हो सके। उन्होंने बताया कि अधिकतर भर्ती मरीज गॉव के और गरीब है। वह अपने घर पर आवश्यक सुविधाओं को जुटा पाने में असमर्थ है। इसलिए कुछ दिन तक उन्हें स्थानीय अस्पतालों में अग्रिम केयर हेतु रखा जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *