पहाडिय़ों में मध्यरात्रि को आरटीओ सचल दस्ते की छापेमारी से ट्रांसपोर्टरों में मचा हड़कंप।

वरिष्ठ संवाददाता आत्मा प्रसाद त्रिपाठी की क्राईम रिपोर्ट

मिर्जापुर।
सोनपुर की पहाडियों में मध्यरात्रि को आरटीओ सचल दस्ते की छापेमारी से ट्रांसपोर्टरों में हड़कंप मच गया।

सोनपुर की पहाड़ियों में गुरुवार की मध्यरात्रि उस समय हड़कंप मच गया जब रात में गांव वाले सो रहे थे और क्रेशर प्लांटों पर उपखनिज की गाड़ियां लोड हो रही थी उसी समय अचानक एक दर्जन की संख्या में प्रशासनिक गाड़ियों से पहुंचे दर्जनों लोगों ने गिट्टी लदे ट्रकों को चेक करना शुरू किया तो हड़कंप मच गया।

स्थानीय लोगों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सोनपुर के पहाड़ियों में चल रहे क्रेशर प्लांटों पर अलग-अलग जिले के नंबरों के लगभग आधा दर्जन गाड़ियां धुल उठाती आती हुई दिखाई दी और उन गाड़ियों से निकलने वाले दर्जनों लोगों ने क्रेशर प्लांट में खड़ी ट्रकों का परमिट चेक करना शुरू कर दिया यही नहीं चर्चा यह भी है कि कुछ वाहन चालकों और अधिकारियों में शरारत भी हुई इसमें चालकों की जमकर पिटाई भी की गई।

कुछ प्लांटों पर पहुंचे सचल दस्ते की टीम के इस कदम के बाद हड़कंप मच गया और चालक अपनी गाड़ियों को छोड़ रात में भागने लगे यह खबर आग की तरह फैल गई और गांव के लोग तमाशबीन बन तमाशा देखने लगे पत्थर व्यवसाय एवं परिवहन से जुड़े लोगों के फोन रात में घनघनाने लगे तो लोगों की नींद टूट गई और लोग आनन-फानन में भागकर क्रेशर प्लांटों पर पहुंचे सचल दस्ता की टीम द्वारा छापेमारीके बाद रात में क्या हुआ इसका अभी कोई पता तो नहीं चल पाया लेकिन इस बात की चर्चा जोरों पर है कि दर्जनों गाड़ियों को रात में पकड़ने वाले कौन-कौन से अधिकारीहैं।

कौन -कौन से अधिकारी रात में जांच करने के लिए आए थे अभी कोई बताने को तैयार नहीं है और न ही गाड़ियों के पकड़े जाने की कोई भी जानकारी सम्बन्धित थाने पर उपलब्ध नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *