पत्नी की धारदार हथियार से किया पति की हत्या,थाने पहुँच कर किया सरेंडर

मृतका सुशीला पाल आशा पद पर कौंधियारा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र पर कार्यरत थी

मामला प्रयागराज जनपद के यमुनापार इलाके के कौंधियारा थाना क्षेत्र के मझिगवां गाँव है! मुंशी लाल पाल होमगार्ड विभाग में वर्तमान में ड्यूटी करते हैं, उनके तीन बेटे हैं और तीनों की शादी कर चुके हैं, बड़े बेटे का नाम कृष्ण कुमार पाल व दूसरे बेटे का नाम अनिल पाल और तीसरे बेटे का नाम सुनील पाल है! जिसमें बड़े बेटे की शादी सेमरी गाँव में हुई है! और दो बेटों की शादी डेरा बजड्डी जारी की तरफ हुई है! सभी बेटो बहुओं को खेती बारी व घर बांट दिया गया था! और होमगार्ड मुंशी लाल अपने बड़े बेटे व बहु के हिस्से में रहते थे! जिस महिला की हत्या की गई है उसका नाम सुशीला पाल उम्र 28 वर्ष है और वह कौंधियारा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में आशा पद पर कार्यरत थी!और उनके बीच में दो बच्चों का जन्म भी हुआ है,बड़े बेटे का नाम आयुष 7 वर्ष और पियूष 5 वर्ष है!लेकिन पति पत्नी में इतना प्रेम होने के बावजूद आज सुबह दिनांक 15 नवम्बर दिन मंगलवार को जिस तरह से सुशीला पाल की बेरहमी से गला कसकर दबाया जाता है,और सिर पर धारदार हथियार से भी वार किया जाता है! जिससे मौत हो जाती है, हत्या होने की सूचना क्षेत्र में सनसनी की तरह फैल जाती है,और सूचना पर तत्काल कौंधियारा थाने के थानाध्यक्ष अपने समस्त हमराहियो के साथ पहुँच कर जांच करते हुए शव को कब्जे में लिया गया और मृतक महिला के मायके फोन कर घटना के बारे में अवगत कराया!घटना इस तरह से हत्या करने के पीछे मृतक महिला सुशीला पाल का क्या कसूर था कि इतना निर्दयता के साथ हत्या कर, घटना स्थल से फरार होकर कौंधियारा थाने पहुँच कर सरेंडर कर देता है! जबकि मृतका सुशीला पाल पढ़ी लिखी महिला थी और कौंधियारा सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में आशा पद पर भी कार्यरत थी! जिस तरह से पति अनिल पाल ने हत्या की है इस तरह से तो कोई पति हत्या नहीं करता है! इस घटना के पीछे क्या सच्चाई है और कौन कौन से राज छुपे है, घटना करने के पीछे किन किन लोगों का हाथ है, जल्द ही खुलासा किया जाऐगा! लेकिन मायके पक्ष से आयी मृतका सुशीला पाल की माँ ने आरोप लगाते हुए यह बतलाया कि हमारी बेटी की हत्या के पीछे ससुर मुंशी लाल,और बड़ी बहू तथा दामाद आदि के ऊपर गंभीर आरोप लगाते हुए पुलिस प्रशासन से न्याय की गुहार लगाई है! हत्या की सूचना यमुनापार पार में आग की तरह फैलती गई, घटना की सूचना की जानकारी मिलने पर एसपी यमुनापार सौरभ दीक्षित को हुई तो वह भी घटना स्थल व शव की जांच करते हुए घटना में कारित अपराधियों की गिरफ्तारी करने का आश्वासन दिया! उसके बाद बारा सीओ सन्त लाल सरोज भी घटना स्थल का मौका मुआयना किया, और फोरसिंक टीम को बुलाकर घटना स्थल पर पड़े ब्लड का सैंपल जांच करवाने के लिए भेजा गया! और मायके पक्ष के लोगों से तहरीर लेकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया!

प्रयागराज ब्यूरो चीफ अनन्तपुरी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *