थाने पर इंतजार करते रह गए ग्रामीण नहीं आए क्रेशर व्यवसाई व संचालक

आत्मा प्रसाद त्रिपाठी की रिपोर्ट

ग्रामीणों को घर भेजने के बाद पुलिस ने गिरफ्तार किए गए 6 लोगों को भेजा जेल ग्रामीणों में आक्रोश

अहरौरा मिर्जापुर

क्षेत्र के पहाड़ियों पर मानको को दरकिनार कर चल रहे क्रेशर प्लांटों से उड़ने वाले धूल गर्दे से परेशान बियाहुर के ग्रामीणों द्वारा गांव के पूरब तरफ चल रहे क्रेशर प्लांटो पर मंगलवार को सुबह
क्रेशर प्लांटों पर रहने वाले कर्मचारियों से की गई मारपीट के बाद पुलिस ने बुधवार को सुबह दस बजे ग्रामीणों को पंचायत करने के लिए थाने बुलाया था थाने पहुंचे ग्रामीण घंटों क्रेशर संचालकों का इंतजार करते रह गए लेकिन क्रेशर संचालक नहीं आएं इसके बाद पुलिस ने ग्रामीणों को घर वापस भेज दिया ।


और रात में हिरासत में लिए गए छः युवकों को क्रेशर संचालकों द्वारा दिए गए तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया ।
जिससे ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया ग्रामीणों ने गांव में प्रदर्शन कर पुलिस के खिलाफ नारे लगाए और क्रेशर संचालकों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग किया ।

बता दें की थाना क्षेत्र के भगौती देई , लालपुर ,,सोनपुर ,भगौती देई जैसे तमाम जगहों पर क्रेशर प्लांटों का संचालन मांनको को दरकिनार कर किया जा रहा है ।
इन क्रेशर प्लांटो से उड़ने वाले धूल गर्दे से ग्रामीण परेशान है और समय-समय पर क्रेशर प्लांटों के खिलाफ अपनी आवाज बुलंद करते रहते हैं ।
लेकिन क्रेशर प्लांट संचालकों द्वारा ग्रामीणों की आवाज को दबा दिया जाता हैं ।
और ग्रामीणों के ऊपर मुकदमे लिख उनको जेल भेज दिया जाता है ।


यही हाल मंगलवार को हुए विवाद में बियाहुर गांव के लोगों का भी हुआ और क्रेशर प्लांट संचालक की तहरीर पर मुकदमा लिख कर ग्रामीणों को पुलिस ने जेल भेज दिया ।
बियाहुर के ग्रामीणों का कहना है कि भगौती देई एवं बियाहुर गांव के पूरब तरफ बिना बाउंड्री वाल एवं मानकों को दर किनार करके चलने वाले आधा दर्जन से अधिक क्रेशर प्लांटों से उड़ने वाले धूल गर्दे के गुबार से हम ग्रामीण परेशान है ।
जब हम लोग इन क्रेशर प्लांट संचालकों से पानी छिड़कने की मांग करते हैं तो प्लांट संचालक ग्रामीणों को धमकियां देते हैं और कहते हैं तुम लोगों को जो करना हो कर लो हम प्लांट इसी तरह चलाएंगे जिससे आक्रोशित कुछ लड़कों द्वारा मंगलवार को क्रेशर प्लांट संचालकों के साथ मारपीट हो गई ।
ग्रामीणों की मांग है कि क्रेशर प्लांट मानकों के अनुसार चलाया जाए ।
धूल गर्दे से मानव जीवन पर जहां प्रतिकूल प्रभाव पड़ रहा है वही पशु पक्षी भी धूल गर्दे से परेशान है ।
धूल से फसलें बर्बाद हो जा रही है लेकिन हम ग्रामीणों की सुनने वाला कोई नहीं है ।
थानाध्यक्ष संजय कुमार सिंह ने बताया कि क्रेशर संचालकों की तहरीर पर क्रेशर प्लांट पर तोड़फोड़ करने वालों के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा पंजीकृत कर आरोपी 6 लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है साथ ही एसडीएम चुनार,सिओ नक्सल,आरो, थाना प्रभारी बियाहुर गांव में पहुंचे और गांव के लोगों से वार्ता भी हुई और लोगों ने अधिकारियों के सामने अपनी बातों को रखा, मौके पर अधिकारियों ने कहा कि बिना मानक के अनुसार न चलाएं जाने पर क्रेशर प्लांटों पर कार्रवाई की जाएगी,इस अवसर पर अरूणेश सिंह पटेल अपना दल एस नेता, सुरेन्द्र प्रजापति,श्यामनारायण पटेल, निधाय हक, डॉ सुरेन्द्र कुमार,केदार ,राम अवध, राजेंद्र गौड़, सत्यनारायण पटेल, धनराज विश्वकर्मा, रामनरेश सिंह, महेंद्र पटेल,संत राम पटेल, गंगाराम,लक्षमीना देवी,प्रेमा देवी, प्रभावित देवी, मनसा देवी, गीता देवी, कुमारी देवी, मंजू देवी सहित सैकड़ों ग्रामीण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.