ज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी मामला:कोर्ट में होगी दो मामलों की सुनवाई,शिवलिंग की जांच को लेकर अदालत सुना सकती है फैसला

ब्यूरो रिपोर्ट

वाराणसी। देश की सांस्कृतिक राजधानी काशी के केज्ञानवापी-श्रृंगार गौरी मामले से जुड़े दो मामलों की सुनवाई आज मंगलवार को दो अलग-अलग न्यायालयों में होगी।कोर्ट कमिश्नर के सर्वे के दौरान मस्जिद परिसर में मिले कथित शिवलिंग की वैज्ञानिक जांच के मामले में जिला जज डा. एके विश्वेश की अदालत फैसला सुना सकती है।शिवलिंग की पूजा-पाठ की मांग के अधिकार से संबंधित मामले में सिविल जज सीनियर डिविजन फास्ट ट्रैक कोर्ट महेंद्र कुमार पांडेय की अदालत में सुनवाई होगी।

आपको बताते चले कि न्यायालय के आदेश पर ज्ञानवापी परिसर का सर्वे कराया गया था।सर्वे के दौरान मस्जिद के वजूखाने में शिवलिंग जैसी आकृति मिली।हिंदू पक्ष का दावा रहा कि वह आकृति प्राचीन शिवलिंग है।ऐसे में कोर्ट इसकी वैज्ञानिक जांच कराने का आदेश दे ताकि तथ्यों का पता चल सके। इस पर जवाब देने के लिए अंजुमन इंतेजामिया मसाजिद कमेटी की ओर से बीते 7 अक्टूबर को कोर्ट से समय मांगा गया था। जिला जज की कोर्ट ने कहा था कि 11 अक्टूबर को मसाजिद कमेटी का पक्ष सुनने के बाद वह अपना आदेश सुनाएगी।

वादी किरन सिंह ने ज्ञानवापी परिसर में मिले कथित शिवलिंग की हिंदुओं को नियमित पूजा-अर्चना की अनुमति देने संबंधी प्रार्थना पत्र कोर्ट में दाखिल किया है। उन्होंने मस्जिद में मुस्लिमों का प्रवेश वर्जित करने की भी मांग की थी। इस मामले की सुनवाई के लिए भी फास्ट ट्रैक कोर्ट में 11 अक्टूबर की तारीख निर्धारित है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *