” जलवायु परिवर्तन: कारण एवं परिणाम ” पर एक संगोष्ठी का आयोजन

मण्डलप्रभारी कृष्णा शर्मा की रिपोर्ट

उदित नारायण पीजी कॉलेज पडरौना कुशीनगर में आज “जलवायु परिवर्तन: कारण एवं परिणाम” पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया संगोष्ठी का शुभारंभ मुख्य अतिथि द्वारा मां सरस्वती की प्रतिमा पर दीप प्रज्वलन के साथ शुभारंभ हुआ कुमारी आंचल मिश्रा एवं सहपाठियों ने सरस्वती वंदना एवं स्वागत गीत गाया । संगोष्ठी के प्रारंभ में गोष्ठी के समन्वयक डॉ संजय कुमार सिंह ने विषय का प्रवर्तन किया जिसके अंतर्गत उन्होंने जलवायु में परिवर्तन लाने वाले विभिन्न कारकों सीएफसी गैस, कार्बन मोनोऑक्साइड ,बढ़ते औद्योगीकरण एवं नगरीकरण को उत्तरदाई बताते हुए पर्यावरण संरक्षण पर बल दिया मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय गोरखपुर के पूर्व भूगोल विभागध्यक्ष प्रोफेसर शिव शंकर वर्मा ने जलवायु परिवर्तन के विभिन्न चरणों की विस्तृत व्याख्या प्रस्तुत की साथ ही बढ़ते औद्योगीकरण एवं नगरीकरण के द्वारा विभिन्न प्रकार की पर्यावरण समस्याओं के तरफ ध्यान इंगित किया कराया उन्होंने स्पष्ट किया कि जलवायु परिवर्तन बीसवीं सदी की देन है तत्पश्चात के समय में यह दिनोंदिन भयंकर रूप धारण करती गई शीतकाल में अत्यधिक ठंडी ग्रीष्म काल में अत्यधिक गर्मी वर्षा काल में अत्यधिक वर्षा वह भी कम अंतराल में इसी समस्या की देन है यदि समस्या के मूल में जाएं तो हम पाएंगे कि जनसंख्या वृद्धि इस समस्या का एक मूल कारक है जो कि प्रतिदिन लगभग 221354 की दर से बढ़ रही है यदि हमें इस समस्या से निजात पाना है तो हमें बढ़ते हुए जनसंख्या पर नियंत्रण करना होगा जनसंख्या यदि इसी तरह बढ़ती रही तो सन 2050 ईस्वी तक विश्व की जनसंख्या 10 अरब की संख्या को पार कर जाएगी जिससे उत्पन्न समस्याओं कि हम कल्पना नहीं कर सकते विशिष्ट अतिथि डॉ सी बी सिंह ने जलवायु संकट से उबरने के लिए अधिक से अधिक वृक्षारोपण करने पर बल दिया साथ ही वृक्षारोपण को अपने दैनिक जीवन में अपनाने का आग्रह किया कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय की प्राचार्य डॉक्टर ममता मणि त्रिपाठी ने किया अपने अध्यक्षीय उद्बोधन में उन्होंने जलवायु परिवर्तन मैं उससे होने वाले पर्यावरण संकट पर चिंता व्यक्त की इसके लिए उन्होंने अपने विद्यार्थियों से सामूहिक वाहनों का उपयोग करने अधिक से अधिक वृक्षारोपण करने तथा विलासतावादी जीवन त्यागने का आग्रह किया अंत में जेपी जयसवाल ने अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया कार्यक्रम में डॉक्टर नरेंद्र त्रिपाठी डॉ हरिओम मिश्रा डॉक्टर शंभू प्रसाद डॉक्टर विशंभर प्रजापति डॉ मुकेश यादव श्री प्रमोद गुप्ता रा राजन गौतम श्री शमशेर मॉल श्री प्रदीप मोदनवाल स्नेहा वर्मा शिवानी मद्धेशिया वंदना एवं भारी संख्या में छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.