जमीनी विवाद को लेकर देवर ने भौजाई को बाल पकड़ कर घसीट घसीट पीटा

वरिष्ठ पत्रकार संतोष मिश्रा जौनपुर

मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के नद्दी रामपुर गांव में भौजाई द्वारा जमीन हड़पने से मना करने पर दबंग दुःस्शासन रूपी देवर ने भौजाई की बाल पकड़कर, घर के अंदर से घसीटते हुए पड़ोसियों के सामने लाकर अपना वर्चस्व कायम करने के लिए दौड़ा-दौड़ा कर पिटाई किया, पिटाई के दौरान भौजाई कई बार निर्वस्त्र भी होती रही

इसके बावजूद देवर का दिल नहीं पसीजा। भौजाई का नाबालिक बच्चा अपनी मां की जान बख्शने के लिए पुकारता रहा लेकिन देवर भौजाई को निर्वस्त्र कर दौड़ा-दौड़ाकर पिटाई करता रहा। पुलिस ने शिकायत के बाद मुकदमा कायम तो किया लेकिन कोई ठोस कार्रवाई अभी तक नहीं किया। पिटाई का वीडियो क्षेत्र में तेजी के साथ वायरल होने से लोगों को महाभारत काल की द्रौपती के साथ हुई हुई घटना का याद ताजा हो गया।

नद्दी रामपुर गांव के यादव बस्ती में प्रभा शंकर यादव, गौरी शंकर यादव एवं दयाशंकर 3 भाई रहते हैं। दयाशंकर रोजी-रोटी के सिलसिले में मुंबई के भिवंडी में काम कर रहा है। घर पर उनकी बीवी सितारा देवी अपने 10 वर्ष के बच्चे खुशी के साथ रहती है। बीते 1 माह से बंटवारे में मिली दयाशंकर की जमीन को हड़पने के लिए प्रभा शंकर एवं गौरी शंकर बुरी नियत रखते थे। बुधवार की दोपहर प्रभा शंकर और गौरी शंकर उसके जमीन पर जबरदस्ती शौचालय का निर्माण करना शुरू किया तो सितारा देवी ने मना किया। जिसके बाद देवर गौरीशंकर और जेठ प्रभा शंकर के बीच कहासुनी होने लगी। आरोप है कि दबंग देवर गौरीशंकर ने सितारा देवी को अपनी पत्नी के ललकारने पर मारने के लिए झुका तभी सितारा देबी घर में भागी तो उसे मारकर गिरा दिया इसके बाद उसके सिर के बाल को पकड़कर घसीटते हुए पड़ोसियों के सामने लाया और जैसे मर्जी आया सितारा देवी की आधे घंटे तक पिटाई करता रहा। इस दौरान कई बार सितारा देवी निर्वस्त्र होकर जान बख्श देने की भीख देवर और जेठ से मांगती रही। लेकिन जेठ और देवर उसकी पिटाई करते रहे। यहां तक कि उसका नाबालिक बच्चा खुशी भी मां को बचाने के लिए पहुंचा तो देवर गौरी शंकर ने उसके छाती पर चढ़कर लातों के प्रहार से मारा गया।
सितारा देवी की माना जाए तो देवर गौरीशंकर और जेठ प्रभा शंकर के खिलाफ थाने में दो बार तहरीर दी है। लेकिन पुलिस ने जबरदस्ती सितारा देवी से समझौता कराकर घर भेज देती रही। जिसका परिणाम रहा कि बुधवार की सुबह महिला को दौड़ा-दौड़ा कर और घसीट घसीट कर पिटाई किया गया। इसके बावजूद भी पुलिस इस मारपीट को गंभीरता से नहीं लिया है। पीड़ित सितारा देवी ने बुधवार की अपराहन थाने पहुंचकर तारीख दिया तो पुलिस में एनसीआर दर्ज कर घायल महिला का मेडिकल कराकर कार्रवाई का आश्वासन देकर घर भेज दिया है अब सितारा देवी दबंग देवर और जेठ के भय से दहशत में जी रही है।

मड़ियाहूं में इन दिनों पुलिस की लापरवाही के चलते पूरे क्षेत्र में जंगलराज कायम हो गया है। जब से कोतवाल किशोर कुमार चौबे ने कोतवाली का चार्ज संभाला है आए दिन मारपीट और हत्याओं का सिलसिला बदस्तूर जारी है। अब तक मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र में मारपीट में कई हत्याएं हो चुकी है इसके बावजूद पूरी पुलिस गुनाहगारो की तरफ से ही समझौते कराकर उन्हें घर भेज दे रही है। जिसके कारण नद्दी रामपुर जैसी घटनाओं का वीडियो क्षेत्र में वायरल हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.