जब मुझे कहीं सरकारी कामों की क्वालिटी को देखना होता है तो मैं अचानक ड्रोन भेज देता हूं और किसी को पता भी नहीं चलता कि मैंने सारी जानकारी ले ली है

ब्यूरो रिपोर्टर

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘जब केदारनाथ का पुनर्निर्माण का काम शुरू हुआ तो मेरे लिए हर बार वहां जाना संभव नहीं था। ऐसे में मैं ऑफिस से ही लगातार रिव्यू मीटिंग करता था। उसी में केदारनाथ में कैसे काम चल रहा है, कितनी तेजी से चल रहा हैं, मैं वहां से ड्रोन के द्वारा लगातार मॉनिटर करता था।’ पीएम ने कहा कि आज सरकारी कामों की क्वॉलिटी को भी देखना है और मैं बता दूं कि इन्सपेक्शन के लिए जाना है तो मेरे पहुंचने से पहले वहां सबकुछ ठीक-ठाक हो ही जाएगा। लेकिन अब उन्हें पता भी नहीं चलता है और ड्रोन के जरिए मैं सब देख लेता हूं। उन्होंने कहा, ‘जरूरी नहीं है कि मैं पहले से बता दूं कि मुझे वहां निरीक्षण के लिए जाना है। फिर तो सबकुछ ठीकठाक हो ही जाएगा। मैं ड्रोन भेज दूं तो पता वही लेकर आ जाता है। उनको पता भी नहीं चलता कि मैंने जानकारी ले ली है।’

Leave a Reply

Your email address will not be published.