चुनावी रंजिश की वजह से प्रधान पर लगाया जा रहा आरोप साबित हो रहे बेबुनियाद।

हंडिया (क्षेत्रिय संवाददाता)। तहसील अंतर्गत उतारव थाना क्षेत्र के बड़ागांव के प्रधान पर शराब बिक्री में अनियमितता की आरोप मामले में दिए गए शिकायती पत्र की जांच में प्रधान को संयुक्त आबकारी आयुक्त वाराणसी द्वारा क्लीन चिट दिया गया है। चुनावी रंजिश की वजह से प्रधान पर तरह तरह का आरोप लगाए गए आरोप बेबुनियाद साबित हो रहे है। प्रधान ने चुनावी रंजिश की वजह अपनी हत्या कराने की आशंका जताई है। आपको बताते चले कि सैदाबाद ब्लॉक के बड़ागांव ग्राम सभा के प्रधान पंकज मिश्रा पर चुनावी रंजिश की वजह कुछ लोगों द्वारा शराब ठेके पर शराब बिक्री में अनियमितता कराने की आरोप की शिकायती पत्र दिया गया था। जांच के बाद उनके घर वालो की कई शराब की दुकान का लाइसेंस निरस्त करने की मांग की थी। यही भर नहीं साजिश के तहत नवाबगंज के एक शराब तस्कर की उतरावं में हुई पुलिस मुठभेंड में पंकज मिश्रा का नाम भी प्रकाश में लाया गया। लेकिन शराब बिक्री में अनियमितता प्रकरण में संयुक्त आबकारी आयुक्त वाराणसी ने मामले की विधिवत जांच कराई। जांचोपरांत आरोप असत्य पाये जाने पर ग्राम प्रधान को मामले में क्लीन चिट दे दिया गया। एक फर्जी मुकदमे में फरारी काट रहे ग्राम प्रधान पंकज मिश्रा गिरफ्तारी के डर से अपनी फरारी के दौरान प्रधानी का चुनाव के ताल ठोकी थी। चुनाव लडा और 9 मत से जीत हासिल किया तो विपक्षी लोगो में और बौखलाहट हो गई। दो दिन पहले न्यायालय के आदेश पर पैमायिस के दौरान राजस्व टीम पर उनके द्वारा किए गए हमले का आरोप की शिकायत भी झूठी साबित हुई। राजस्व निरीक्षक अर्जुन सिंह ने प्रधान पर लगे आरोप को बेबुनियाद बताया है। उन्होंने बताया कि प्रधान द्वारा राजस्व टीम पर कोई हमलान किया गया है। दो दिन पहले उतरावं पुलिस द्वारा प्रधान को मामले में शिकायत के आधार पर पकड़ा गया लेकिन कोई साक्ष्य न होने के कारण सुपुर्दगी में छोड़ देना पड़ा। इस संबंध में ग्राम प्रधान ने बताया कि विपक्षी लोगो द्वारा उनके द्वारा कराए जा रहे है विकास कार्य में रोड़ा डाला जा रहा है। वही उन्होंने चुनावी रंजिश की वजह अपनी हत्या कराए जाने का आशंका जताते हुए पुलिस अफसरों को पत्र देकर जान माल की सुरक्षा के लिए गुहार लगाई है। थानाध्यक्ष श्रवण कुमार ने बताया कि प्रधान द्वारा राजस्व टीम पर कोई हमला नही किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *