चकबंदी विभाग के कारनामे का खामियाजा ग्रामीणों के साथ ही, भुगत रहा प्रशासन भी

अजीत यादव पड़रौना की रिपोर्ट

नेबुआ नौरंगिया/कुशीनगर।
चकबंदी विभाग के कारनामे का खामियाजा ग्रामीणों के साथ ही प्रशासन को भी भुगतना पड़ रहा है।पडरौना तहसील के खजुरिया ग्रामपंचायत के पुरंदर छपरा के समीप खजुरिया रामकोला पिच मार्ग अवरोध का शिकार हो कानूनी पचड़े में उलझकर रह गया है।
खजुरिया रामकोला पिच मार्ग चकबंदी से पूर्व का बना आम सड़क है।चकबंदी में भी उसका सही तरीके से पैमाइश नहीं हुआ और चक लगने के पश्चात वह सड़क लोगों के चक से होकर गुजरता है जबकि नक्शे में जहाँ सड़क है वहाँ लोगो का कब्जा है।जिसकी जानकारी पाकर एक ग्रामीण ने अपने चक का सीमांकन कराते हुए पिच मार्ग का पुनर्निर्माण रोक दिया है। दिन में उच्चाधिकारियों के निर्देश पर पुलिसबल के साथ पहुँची राजस्व टीम भी काफी कवायद के बाद बेनतीजा लौट गई।जिससे उक्त मार्ग का विवादित भाग पिचिंग से बंचित लोगो के परेशानी का सबब बना है।इस सम्बंध में राजस्व निरीक्षक उसमान गनी ने बताया कि उच्चाधिकारियों को रिपोर्ट भेजा जा रहा है सड़क पर अबैध कब्जधारिओ पर धारा 122 बी का कार्यवाही किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.