कटरा सीएससी पर दलालों का बोलबाला

गोंडा से बड़ी खबर

बताते चलें कि कटरा सीएससी पर जो भी सारी सुविधा है वह भी आम जनता को नहीं मिल रहा है वहां के सभी डॉक्टर सारी जांच बाहर प्राइवेट सेंटरों पर कराते हैं मोटा कमीशन के चक्कर में और तो और जो मेडसिन सीएससी पर हैं और तो और हॉस्पिटल में मेडसिन होने के बावजूद भी डॉक्टर बाहर मेडिकल स्टोर से मंगाते हैं और सारे ब्लड टेस्ट जनता डायग्नोस्टिक सेंटर और बेल केयर डायग्नोस्टिक सेंटर डॉ लाल पैथ पर कराते हैं सारा ब्लड टेस्ट एक्सरे ईसीजी सारी जांच बाहर से होती है जनता डायग्नोस्टिक सेंटर और बेल केयर डायग्नोस्टिक सेंटर के सात आठ लोग कटरा सीएससी पर हमेशा उपलब्ध रहते हैं दलाल इस सारे मामले की जानकारी सीएचसी अधीक्षक अमित कुमार को दिया गया था सबूत के साथ लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की और तो और अधीक्षक अमित कुमार भी जितने मरीज देखते हैं सारे मरीजों की जांच जनता डायग्नोस्टिक सेंटर से कराते हैं जब खुद मालिक ही इस तरह काम कर रहा है तो और सारे अधिकारी तो करेंगे ही जबकि सरकार इतना सुविधा आम जनता को दे रही है लेकिन कर्मचारी जनता तक पहुंचने नहीं दे रहे हैं प्रशासन को इस तरह कर्मचारियों के ऊपर सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए जब रिपोर्टर ने अमित कुमार अधीक्षक अमित कुमार भारती चिकित्सा अधिकारी राजेंद्र कुमार गुप्ता लैब टेक्नीशियन सभी लोग इस मामले में कोई भी उत्तर नही दिया और रिपोर्टर को बाइट देने से मना कर दिया अब इस सारे मामले को लेकर गोंडा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सारे सबूत और लिखित में N C R न्यूज रिपोर्टर उमेस बर्मा देने को बोल रहे थे देखना अब यह है कि प्रशासन इन लोगों के ऊपर कार्रवाई करते हैं या नहीं

गोंडा से ब्यूरो रिपोर्ट शिवचरण

बताते चलें कि कटरा सीएससी पर जो भी सारी सुविधा है वह भी आम जनता को नहीं मिल रहा है वहां के सभी डॉक्टर सारी जांच बाहर प्राइवेट सेंटरों पर कराते हैं मोटा कमीशन के चक्कर में और तो और जो मेडसिन सीएससी पर हैं और तो और हॉस्पिटल में मेडसिन होने के बावजूद भी डॉक्टर बाहर मेडिकल स्टोर से मंगाते हैं और सारे ब्लड टेस्ट जनता डायग्नोस्टिक सेंटर और बेल केयर डायग्नोस्टिक सेंटर डॉ लाल पैथ पर कराते हैं सारा ब्लड टेस्ट एक्सरे ईसीजी सारी जांच बाहर से होती है जनता डायग्नोस्टिक सेंटर और बेल केयर डायग्नोस्टिक सेंटर के सात आठ लोग कटरा सीएससी पर हमेशा उपलब्ध रहते हैं दलाल इस सारे मामले की जानकारी सीएचसी अधीक्षक अमित कुमार को दिया गया था सबूत के साथ लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की और तो और अधीक्षक अमित कुमार भी जितने मरीज देखते हैं सारे मरीजों की जांच जनता डायग्नोस्टिक सेंटर से कराते हैं जब खुद मालिक ही इस तरह काम कर रहा है तो और सारे अधिकारी तो करेंगे ही जबकि सरकार इतना सुविधा आम जनता को दे रही है लेकिन कर्मचारी जनता तक पहुंचने नहीं दे रहे हैं प्रशासन को इस तरह कर्मचारियों के ऊपर सख्त से सख्त कार्रवाई करनी चाहिए जब रिपोर्टर ने अमित कुमार अधीक्षक अमित कुमार भारती चिकित्सा अधिकारी राजेंद्र कुमार गुप्ता लैब टेक्नीशियन सभी लोग इस मामले में कोई भी उत्तर नही दिया और रिपोर्टर को बाइट देने से मना कर दिया अब इस सारे मामले को लेकर गोंडा के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सारे सबूत और लिखित में N C R न्यूज रिपोर्टर उमेस बर्मा देने को बोल रहे थे देखना अब यह है कि प्रशासन इन लोगों के ऊपर कार्रवाई करते हैं या नहीं

गोंडा से ब्यूरो रिपोर्ट शिवचरण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *