अब 3600 परिवारों को मिलेगी सीवेज की समस्या से मुक्ति।

अनंतपुरी गोस्वामी की रिपोर्ट

प्रयागराज : त्रिवेणी पुरम कॉलोनी में रहने वाले लगभग 3600 परिवारों की सीवेज संबंधित समस्या के निराकरण के दृष्टिगत मंडलायुक्त ने आज कॉलोनी स्थित निष्क्रिय सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण किया।

उसे अति शीघ्र उपयोग में लाने हेतु वहां निर्मित पंपिंग स्टेशन का जीर्णोद्धार करने का कार्य नमामि गंगे टीम को सौंपा।

त्रिवेणीपुरम कॉलोनी में उत्पन्न हो रहे स्लज को छतनाग में निर्माणाधीन एसटीपी में भेजा जाएगा।

पंपिंग स्टेशन की भूमि को छोड़कर बाकी की भूमि को प्रयागराज विकास प्राधिकरण विकसित करेगा।

त्रिवेणी पुरम कॉलोनी में रहने वाले लगभग 3600 परिवारों की सीवेज संबंधित समस्या के निराकरण के दृष्टिगत मंडलायुक्त श्री संजय गोयल ने आज कॉलोनी स्थित निष्क्रिय सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण किया तथा उसे अति शीघ्र उपयोग में लाने के निर्देश दिए। इस क्रम में उन्होंने वहां निर्मित पंपिंग स्टेशन का जीर्णोद्धार करने का कार्य नमामि गंगे टीम को सौंपा एवं कॉलोनी से उत्पन्न हो रहे स्लज के ट्रीटमेंट का कार्य अति शीघ्र शुरू करने हेतु एक कार्य योजना तैयार करने के भी निर्देश दिए।

अभी तक त्रिवेणी पुरम एसटीपी संबंधित कार्यों की जिम्मेदारी गंगा प्रदूषण की थी पर अब पंपिंग स्टेशन के जीर्णोद्धार के साथ-साथ राइजिंग मेन पाइप एवं ग्रेविटी सीवर लाइन बिछाने का कार्य एनएमसीजी द्वारा किया जाएगा। इसके अतिरिक्त कॉलोनी में उत्पन्न हो रहे स्लज को छतनाग में निर्माणाधीन एसटीपी में पंपों के माध्यम से भेजने एवं वहां पर उसका शोधन कराने का कार्य भी एनएमसीजी द्वारा किया जाएगा। साथ ही जहां-जहां भी सीवेज पाइपलाइन चोक हैं अथवा सफाई की आवश्यकता है, उसे कराने का कार्य भी नमामि गंगे को दिया गया है।
सभी कार्यों को अति शीघ्र शुरू कराने हेतु संबंधित अधिकारियों को सभी आवश्यक अनुमोदन लेते हुए टेंडर निकालने का कार्य अति शीघ्र करने के निर्देश दिए गए हैं।

इसी क्रम में त्रिवेणीपरम कॉलोनी स्थित इस एसटीपी के जिस भाग में पंपिंग स्टेशन बना है उस स्थान को छोड़कर बाकी की भूमि को विकसित करने की जिम्मेदारी प्रयागराज विकास प्राधिकरण दी गई है। इसके दृष्टिगत भी मंडलायुक्त ने एक कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए हैं।

तत्पश्चात मंडलायुक्त ने छतनाग में निर्माणाधीन सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट का भी निरीक्षण किया एवं उससे संबंधित आवश्यक जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त श्री रवि रंजन, प्रयागराज विकास प्राधिकरण उपाध्यक्ष श्री अरविंद कुमार चौहान समेत अन्य सभी अधिकारी गण उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.